13.3 C
Mathura
Thursday, February 29, 2024

रोहित के बेजान हाथ-पैरों में के.डी. हॉस्पिटल के न्यूरो सर्जनों ने डाली जान

रोहित के बेजान हाथ-पैरों में के.डी. हॉस्पिटल के न्यूरो सर्जनों ने डाली जान

जीवन और मौत ईश्वर के हाथ होती है लेकिन चिकित्सक भी भगवान से कम नहीं होते। के.डी. मेडिकल कॉलेज-हॉस्पिटल एण्ड रिसर्च सेण्टर के विशेषज्ञ न्यूरो सर्जन डॉ. अजय प्रजापति और डॉ. अवतार सिंह तथा उनकी टीम गांव सेवलगढ़, छाता, जिला मथुरा निवासी रोहित (15) के लिए भगवान साबित हुई। तीन जून को सीढ़ियों से गिरे रोहित के बेजान हुए हाथ-पैरों में जान डालने का काम के.डी. हॉस्पिटल के न्यूरो सर्जनों ने बड़ी मशक्कत के बाद स्पाइन सर्जरी के माध्यम से कर दिखाया।
ज्ञातव्य है कि सेवलगढ़, छाता, जिला मथुरा निवासी रोहित तीन जून को सीढ़ियों से गिर गया तथा उसकी गर्दन से सिर को जोड़ने वाली हड्डी टूट गई थी। इस गम्भीर चोट की वजह से रोहित के हाथों और पैरों ने पूरी तरह से काम करना बंद कर दिया। बचपन में ही पिता को खो चुके रोहित की इस स्थिति को देख उसकी मां का बुरा हाल हो गया। आखिरकार 6 जून को रोहित को के.डी. हॉस्पिटल के न्यूरो सर्जन डॉ. अजय प्रजापति के पास लाया गया।
रोहित की स्थिति को देखते हुए उसकी कुछ जांचें कराने के बाद डॉक्टरों की टीम ने तत्काल ऑपरेशन का निर्णय लिया। 7 जून को रोहित की एक मुश्किल स्पाइन सर्जरी (सी-1-सी-2 रेडक्शन एण्ड फिक्सेशन) की गई जोकि इससे पहले शायद ही मथुरा में कभी हुई हो। सर्जरी सफल रही तथा अब रोहित के हाथों और पैरों ने काम करना शुरू कर दिया है तथा वह सहारे से चलने-फिरने भी लगा है। इस कठिन सर्जरी में न्यूरो सर्जन डॉ. अजय प्रजापति और डॉ. अवतार सिंह का सहयोग डॉ. समर्थ सिन्हा, निश्चेतना विशेषज्ञ डॉ. लीना गोयल तथा टेक्नीशियन राजवीर, रजनीश एवं राबिन ने किया।
इस सर्जरी पर डॉ. अजय प्रजापति का कहना है कि रोहित को हॉस्पिटल लाने में परिजनों ने विलम्ब किया लेकिन सर्जरी की सफलता को देखते हुए दावे से कहा जा सकता है कि अब वह पहले की तरह कुलांचें जरूर भरेगा। डॉ. प्रजापति का कहना है कि मथुरा में स्पाइन का यह पहला सबसे जटिल ऑपरेशन है। इतना ही नहीं बड़े शहरों में यह ऑपरेशन जहां 6 से 8 लाख रुपये में होता है वहीं के.डी. हॉस्पिटल में मरीज की आर्थिक स्थिति को देखते हुए उसका ऑपरेशन सिर्फ 80 हजार रुपये में किया गया है।
आर.के. एज्यूकेशनल ग्रुप के अध्यक्ष डॉ. रामकिशोर अग्रवाल, प्रबंध निदेशक मनोज अग्रवाल, प्राचार्य डॉ. आर.के. अशोका, उप प्राचार्य डॉ. राजेन्द्र कुमार ने डॉ. अजय प्रजापति और डॉ. अवतार सिंह तथा उनकी टीम को इस मुश्किल सफल सर्जरी के लिए बधाई देते हुए रोहित के शीघ्र पूर्ण स्वस्थ होने की ईश्वर से कामना की है।

रोहित के बेजान हाथ-पैरों में के.डी. हॉस्पिटल के न्यूरो सर्जनों ने डाली जान

Latest Posts

बीएएमएस की परीक्षा में तलाशी अभियान में दो नकलची पकड़े गए

बीएएमएस की परीक्षा में तलाशी अभियान में दो नकलची पकड़े गए

संस्कृति विवि में हुई सेमिनार में वक्ताओं ने बताया वैदिक गणित का महत्व

संस्कृति विवि में हुई सेमिनार में वक्ताओं ने बताया वैदिक गणित का महत्व

सर्वोत्तम रोगी देखभाल प्रयोगशाला बिना असम्भवः डॉ. अवधेश मेहता

सर्वोत्तम रोगी देखभाल प्रयोगशाला बिना असम्भवः डॉ. अवधेश मेहता

जी.एल. बजाज के छात्र-छात्राओं को किया उद्यमिता की ओर प्रेरित

जी.एल. बजाज के छात्र-छात्राओं को किया उद्यमिता की ओर प्रेरित

रियल पब्लिक स्कूल के छात्र-छात्राओं को कुमकुम लगाकर बोर्ड परीक्षा के लिए भेजा गया

रियल पब्लिक स्कूल के छात्र-छात्राओं को कुमकुम लगाकर बोर्ड परीक्षा के लिए भेजा गया

Related Articles