24 C
Mathura
Tuesday, March 5, 2024

राजीव एकेडमी के छात्र-छात्राओं ने सीखे डिजिटल मार्केटिंग के गुर

डिजिटल मार्केटिंग बनाए उपभोक्ताओं तक जल्दी पहुंच

आज के समय में किसी उद्योग और व्यापार को व्यापक रूप देने के लिए डिजिटल मार्केटिंग सबसे बेहतर तरीका है। डिजिटल मार्केटिंग का महत्व उसकी विशाल ऑनलाइन दर्शक संख्या है जोकि फेसबुक, ह्वाट्सअप, ट्विटर, इंस्टाग्राम, टेलीग्राम आदि साइट्स पर रहती है। यह बातें शुक्रवार को राजीव एकेडमी फॉर टेक्नोलॉजी एण्ड मैनेजमेंट में आयोजित कार्यशाला में रिसोर्स पर्सन वैभव शर्मा (दिल्ली इंस्टीट्यूट आफ डिजिटल मार्केटिंग) ने एम.बी.ए. एवं एम.सी.ए. के छात्र-छात्राओं को बताईं।


शर्मा ने बताया कि डिजिटल मार्केटिंग के जरिए न सिर्फ आप उत्पादों या सेवाओं की पहुंच बढ़ा सकते हैं बल्कि ग्राहकों की पसंद-नापसंद के साथ संवाद भी स्थापित कर सकते हैं। उन्होंने छात्र-छात्राओं को आईटी एण्ड सॉफ्टवेयर सेक्टर की स्ट्रीमों के बारे में भी महत्वपूर्ण जानकारी दी। उन्होंने डिजिटल कम्युनिकेशन पर चर्चा करते हुए कहा कि यह केवल ईमेल, सोशल मीडिया और वेब आधारित विज्ञापनों तक ही सीमित नहीं है बल्कि यह टैक्स्ट एण्ड मल्टीमीडिया मैसेज का मार्केटिंग चैनल भी सिद्ध हुआ है। श्री शर्मा ने बताया कि डी.आई.डी.एम. उद्योग जगत को डिजिटल मार्केटिंग के विशेषज्ञ प्रदान कर राष्ट्रसेवा में संलग्न है।


शर्मा का कहना है कि डिजिटल मार्केटिंग उत्पादों और सेवाओं को बेचने तथा उनका प्रचार करने का सबसे अधिक लाभदायक माध्यम है। हम सोशल मीडिया मार्केटिंग, ईमेल मार्केटिंग, सर्च इंजन मार्केटिंग, ऑनलाइन विज्ञापन आदि के माध्यम से अपने व्यापार को विस्तार दे सकते हैं। उन्होंने बताया कि डिजिटल मार्केटिंग में करिअर बनाने के दर्जनों विकल्प उपलब्ध हैं। हम अपने प्रोडक्ट या सेवा का नि:शुल्क ऑनलाइन प्रचार कर सकते हैं तथा उपभोक्ताओं तक जल्दी पहुंच बना सकते हैं। इसके लिए आपको केवल डिजिटल मार्केटिंग के टूल्स का उपयोग करना होगा जैसे कि सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म, ईमेल मार्केटिंग, वेबसाइट और ब्लॉगिंग आदि।


शर्मा ने कहा कि डिजिटल मार्केटिंग आपको अपने प्रतिस्पर्धी से आगे निकलने में भी मदद करता है। उन्होंने छात्र-छात्राओं को बताया कि डिजिटल मार्केटिंग में करिअर शुरू करना आसान है क्योंकि इसमें विशेष शैक्षणिक योग्यता की आवश्यकता नहीं होती। डिजिटल मार्केटिंग बहुत ही सस्ती और लागत-प्रभावी है। इसके माध्यम से हम कम लागत में अपने व्यवसाय या ब्रांड को अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचा सकते हैं। डिजिटल मार्केटिंग मोबाइल ग्राहकों से जुड़ने में मदद करता है क्योंकि आजकल ज्यादातर लोग स्मार्टफोन का उपयोग करते हैं और इंटरनेट की सुविधाओं से जुड़े रहते हैं। कार्यशाला के अंत में संस्थान के निदेशक डॉ. अमर कुमार सक्सेना ने रिसोर्स पर्सन वैभव शर्मा का आभार माना।

राजीव एकेडमी के छात्र-छात्राओं ने सीखे डिजिटल मार्केटिंग के गुर

Latest Posts

तन-मन को तरोताजा रखने के लिए खेल जरूरीः जेल अधीक्षक

तन-मन को तरोताजा रखने के लिए खेल जरूरीः जेल अधीक्षक

संस्कृति विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय पराक्रम दिवस के उपलक्ष्य में सेमिनार का हुआ आयोजन

संस्कृति विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय पराक्रम दिवस के उपलक्ष्य में सेमिनार का हुआ आयोजन

बीएएमएस की परीक्षा में तलाशी अभियान में एक पकड़ा गया नकलची

बीएएमएस की परीक्षा में तलाशी अभियान में एक पकड़ा गया नकलची

संस्कृति विवि में वैदिक विज्ञान के महत्व के साथ मना राष्ट्रीय विज्ञान दिवस

संस्कृति विवि में वैदिक विज्ञान के महत्व के साथ मना राष्ट्रीय विज्ञान दिवस

मानवता को शर्मसार करती ममता सरकार- नायक

मानवता को शर्मसार करती ममता सरकार- नायक

Related Articles