36.6 C
Mathura
Thursday, April 25, 2024

संस्कृति विवि के सभागार में राष्ट्रीय विज्ञान दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में विद्यार्थियों को संबोधित करते मुख्य अतिथि

संस्कृति विवि के सभागार में राष्ट्रीय विज्ञान दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में विद्यार्थियों को संबोधित करते मुख्य अतिथि

सकारात्मक सोच के साथ विज्ञान के क्षेत्र में काम होः डा. गुप्ता
मथुरा। संस्कृति विश्वविद्यालय के सभागार में ‘राष्ट्रीय विज्ञान दिवस’ पर आयोजित कार्यक्रम में वक्ताओं ने विज्ञान की आवश्यकता और देश में विज्ञान की शिक्षा को लेकर अपने विचार व्यक्त किए। वक्ताओं ने कहा कि हमारे देश के नौजवानों को विज्ञान के क्षेत्र में उच्चतम ज्ञान हासिल कर देश को आत्मनिर्भर बनाने के साथ विश्व स्तर पर सिरमौर बनाना है।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि नेशनल फिसिकल लेबोरेट्री(एनपीएल)दिल्ली के प्रमुख वैज्ञानिक डा. विपिन कुमार गुप्ता ने कहा कि हमें साकारात्मक सोच के साथ अपने विद्यार्थियों से उम्मीद करनी चाहिए। उन्होंने उदाहरण देते हुए कार्यक्रम में मौजूद संस्कृति विवि के विद्यार्थियों को बताया कि किसी भी खोज के लिए सबसे पहले खोज करने वाले के पास एक सपना होना चाहिए। अपने इस सपने को पूरा करने के लिए परिश्रम, लगन और साधन की तलाश करनी होगी। उन्होंने रमन प्रभाव का जिक्र करते हुए कहा कि किसी परिणाम पर पहुंचने में समय लगता है। किसी लक्ष्य को हासिल करने में अनेक चुनौतियों का सामना करना पड़ता है तब कहीं जाकर लक्ष्य हासिल होता है। उन्होंने कहा कि समस्या वहां होती है जब कमरे में बैठकर लोग नीति बनाते हैं और विशेषज्ञ से सलाह नहीं ली जाती।
कार्यक्रम में मौजूद संस्कृति स्कूल आफ सेंट्रल एप्लाइड एंड पालिटिकल स्टडीज के निदेशक डा. रजनीश त्यागी ने ज्वलंत मुद्दों को उठाते हुए कहा कि हमारे देश से होने वाला ब्रेन ड्रेन देश के विकास में आड़े आता है। उन्होंने कहा कि देश में अच्छी प्रयोगशालाएं नहीं होंगी, शिक्षक नहीं होंगे तो देश के नौजवानों को बाहर जाना ही पड़ेगा। उन्होंने कहा कि देश को अमृत भारत बनाना है तो इसके लिए मजबूत ईको सिस्टम बनाना होगा। उन्होंने कहा कि मेरी उन सभी सीईओ से जो मल्टीनेशनल कंपनियों में कार्यरत हैं, अपील है कि वे अपनी कंपनी बनाएं और अपने देश को आत्मनिर्भर बनाने में सहयोग करें।
कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती की प्रतिमा के समक्ष मुख्य अतिथि द्वारा दीप प्रज्ज्वलन से हुआ। मुख्य अतिथि का परिचय डा. संजय कुमार मिश्रा ने तथा स्वागत भाषण संस्कृति स्कूल आफ एप्लाइड एंड बेसिक साइंस के डीन डा. डीएस तौमर ने दिया। इस मौके पर संस्कृति स्कूल आफ एप्लाइड एंड बेसिक साइंस के विद्यार्थियों ने पोस्टर, क्विज एवं रंगोली प्रतियोगिताओं में उत्साह से भाग लिया। कार्यक्रम के दौरान डा. नेहा पाठक, डा. केके सिहं, डा. दुर्गेश वाधवा, डा. सुनील कुमार, डा. अंकन पांडे, प्रीति यादव, पायल श्रीवास्तव, हरिथा आर.एस. भी मौजूद रहीं। कार्यक्रम का संचालन पायल श्रीवास्तव तथा संयोजन डा. जग्गी लाल ने किया

संस्कृति विवि के सभागार में राष्ट्रीय विज्ञान दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में विद्यार्थियों को संबोधित करते मुख्य अतिथि
संस्कृति विवि के सभागार में राष्ट्रीय विज्ञान दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में विद्यार्थियों को संबोधित करते मुख्य अतिथि

Latest Posts

संस्कृति विवि के प्रोफेसर ग्रीस दूतावास द्वारा हुए सम्मानित

संस्कृति विवि के प्रोफेसर ग्रीस दूतावास द्वारा हुए सम्मानित

जीएल बजाज इंस्टीट्यूट ने 2021-23 के पीजीडीएम बैच के लिए एक महत्वपूर्ण दीक्षांत समारोह का किया आयोजन

जीएल बजाज इंस्टीट्यूट ने 2021-23 के पीजीडीएम बैच के लिए एक महत्वपूर्ण दीक्षांत समारोह का किया आयोजन

मोनाली ठाकुर के गीतों पर देर रात तक नाचे संस्कृतियन

मोनाली ठाकुर के गीतों पर देर रात तक नाचे संस्कृतियन

तेज प्रताप यादव कन्नौज लोकसभा सीट से सपा प्रत्याशी घोषित

तेज प्रताप यादव कन्नौज लोकसभा सीट से सपा प्रत्याशी घोषित

संस्कृति विवि में ईशा देओल ने लगाए ठुमके, आह्ना ने बताया मतदान जरूरी

संस्कृति विवि में ईशा देओल ने लगाए ठुमके, आह्ना ने बताया मतदान जरूरी

Related Articles