32.7 C
Mathura
Saturday, July 13, 2024

दूरबीन विधि से किशोरी के दोनों गुर्दों से निकाली गईं कई पथरियां

दूरबीन विधि से किशोरी के दोनों गुर्दों से निकाली गईं कई पथरियां

मथुरा। के.डी. मेडिकल कॉलेज-हॉस्पिटल एण्ड रिसर्च सेण्टर के शिशु शल्य विशेषज्ञ डॉ. श्याम बिहारी शर्मा और उनकी टीम के प्रयासों से 10 वर्षीय ऋषिका पुत्री बंटी को नया जीवन मिला है। के.डी. हॉस्पिटल के चिकित्सकों ने दूरबीन विधि से किशोरी के दोनों गुर्दों से कई पथरियां निकालने में सफलता हासिल की है। अब ऋषिका पूरी तरह से स्वस्थ है। उसे हॉस्पिटल से छुट्टी दे दी गई है। जानकारी के अनुसार विगत माह बीएसए कॉलेज के सन्निकट कंकाली माता मंदिर के पास रहने वाला बंटी अपनी बेटी ऋषिका जोकि चलने-फिरने में असमर्थ थी, उसे लेकर के.डी. हॉस्पिटल आया और शिशु शल्य विशेषज्ञ डॉ. श्याम बिहारी शर्मा से मिला। डॉ. शर्मा ने गम्भीर स्थिति में आई ऋषिका का एक्सरे, सोनोग्राफी, रक्त की जांच कराई जिससे पता चला कि किशोरी के बाएं गुर्दे में मवाद भरी हुई है तथा उसमें कई पथरियां भी हैं इतना ही नहीं उसके दाएं गुर्दे में भी पथरियां पड़ी हुई हैं।
डॉ. श्याम बिहारी शर्मा ने बच्ची की हारमोन सम्बन्धी जांच भी करवाई क्योंकि इतनी कम उम्र में दोनों गुर्दों में छोटी-छोटी पथरियां होना असामान्य बात है। किशोरी की सभी जांचों को देखने के बाद यूरोलॉजिस्ट (मूत्ररोग विशेषज्ञ) डॉ. वसीम अशरफ जोकि शेरे कश्मीर यूनिवर्सिटी श्रीनगर से प्रशिक्षित हैं, उनसे परामर्श लेने के बाद आखिरकार ऑपरेशन का निर्णय लिया गया।
परिजनों की स्वीकृति के बाद शिशु शल्य विशेषज्ञ डॉ. श्याम बिहारी शर्मा के मार्गदर्शन में डॉ. वसीम अशरफ द्वारा पहले चरण में बच्ची के बाएं गुर्दे की मवाद और पथरियां निकालीं गईं उसके बाद दूसरे चरण में दूरबीन विधि से उसके दाएं गुर्दे की पथरियां निकाल कर उसके दोनों गुर्दों को सही-सलामत बचा लिया गया। इस सर्जरी में डॉ. श्याम बिहारी शर्मा और डॉ. वसीम अशरफ का सहयोग निश्चेतना विभाग के डॉ. दीपक अग्रवाल, सहायक आचार्य डॉ. शालिनी तथा डॉ. पुष्पेन्द्र ने किया।
ऋषिका के इस ऑपरेशन पर डॉ. श्याम बिहारी शर्मा का कहना है कि कम उम्र के बच्चों में प्रायः इस तरह की परेशानियां नहीं होतीं। उन्होंने बताया कि 10 वर्ष की बच्ची के गुर्दे की पथरी का दूरबीन विधि से ऑपरेशन का यह पहला मामला है। डॉ. शर्मा ने बताया कि चूंकि के.डी. हॉस्पिटल में सभी तरह की सुविधाएं अद्यतन हैं लिहाजा यहां हर तरह की सर्जरी सहजता से हो जाती है। परिजनों ने बहुत कम खर्च में हुए सही उपचार के लिए के.डी. हॉस्पिटल के चिकित्सकों तथा प्रबंधन का आभार माना है।
आर.के. एज्यूकेशनल ग्रुप के अध्यक्ष डॉ. रामकिशोर अग्रवाल, प्रबंध निदेशक मनोज अग्रवाल तथा डीन और प्राचार्य डॉ. आर.के. अशोका ने 10 वर्षीय ऋषिका की सफल सर्जरी के लिए चिकित्सकों की टीम को बधाई देते हुए बच्ची के स्वस्थ जीवन की कामना की है।

Latest Posts

संस्कृति विवि के विद्यार्थियों को कॉन्टिनुआ कंपनी ने दी नौकरी

संस्कृति विवि के विद्यार्थियों को कॉन्टिनुआ कंपनी ने दी नौकरी

बाढ़ पीड़ितों की मदद को आगे आए सपा नेता राजू

बाढ़ पीड़ितों की मदद को आगे आए सपा नेता राजू

कैंसर के खिलाफ लड़ाई में ऑन्कोलॉजी काफी मददगारः डॉ. सुरेंद्र सिंह

कैंसर के खिलाफ लड़ाई में ऑन्कोलॉजी काफी मददगारः डॉ. सुरेंद्र सिंह

महात्मा गांधी राजकीय विद्यालय डीग मे आयोजित हुआ भामाशाह का सम्मान समारोह

महात्मा गांधी राजकीय विद्यालय डीग मे आयोजित हुआ भामाशाह का सम्मान समारोह

मैं सेना की वजह से ज़िंदा हूँ : देबस्मिता राणा

मैं सेना की वजह से ज़िंदा हूँ : देबस्मिता राणा

Related Articles