34.1 C
Mathura
Friday, July 19, 2024

विचारों और अंतर्दृष्टि का आदान-प्रदान समयानुकूल

जीएल बजाज में पूर्व छात्र सम्मेलन ओडिसी-23 का आयोजन

जी.एल. बजाज ग्रुप आॉफ इंस्टीट्यूशंस, मथुरा में पूर्व छात्र सम्मेलन ओडिसी-23 का आयोजन किया गया। इस अवसर पर 2012 से 2021 तक के पासआउट छात्र-छात्राओं ने जी.एल. बजाज संस्थान के अपने अनुभव और यहां की विशिष्टताएं बताईं। कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि प्रो. मंजू खत्री, निदेशक प्रशिक्षण और प्लेसमेंट, जीएल बजाज इंस्टीट्यूट आफ टेक्नोलॉजी एंड मैनेजमेंट, ग्रेटर नोएडा ने मां सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलित कर किया।


जीएल बजाज ग्रुप आफ इंस्टीट्यूशंस, मथुरा की निदेशक प्रो. नीता अवस्थी ने उद्घाटन भाषण में पूर्व छात्र सम्मेलन ओडिसी-23 के आयोजन की जानकारी देते हुए कहा कि इसका उद्देश्य पूर्व छात्रों को फिर से जुड़ने, नेटवर्क बनाने और एक-दूसरे के साथ अपने अनुभव साझा करने के लिए एक मंच प्रदान करना है। इससे समुदाय की भावना के साथ नए और पुराने छात्र-छात्राओं के बीच सम्बन्ध प्रगाढ़ होंगे। इससे विचारों और अंतर्दृष्टि का आदान-प्रदान करने में मदद मिलेगी, जोकि समय की जरूरत भी है।


इसके बाद, एक पूर्व छात्र वार्ता सत्र आयोजित किया गया। इस अवसर पर पूर्व छात्र-छात्राओं ने अपनी कामयाबी का श्रेय जी.एल. बजाज के प्राध्यापकों को देते हुए कहा कि अध्ययन के लिए अच्छा संस्थान मिलना विद्यार्थी जीवन की सबसे बड़ी सफलता होती है। पूर्व विद्यार्थियों ने अपने पुराने अनुभव साझा करते हुए बताया कि किस प्रकार उन्हें गुरुजनों का प्यार व फटकार मिली, तब जाकर वह अच्छे मुकाम पर पहुंचे। एक पूर्व छात्रा दीक्षा जोकि लंदन (यूके) में रहती है, गूगल मीट के माध्यम से आनलाइन सम्मेलन में शामिल हुई। इस अवसर पर एक छात्र ने कहा कि यह पुनर्मिलन संस्थान के वर्तमान और उसके पूर्व छात्रों के बीच सेतु का काम करेगा। ओडिसी-23 ने ऐसा मंच प्रदान किया है, जहां वर्तमान छात्र अपने वरिष्ठों के अनुभवों और उपलब्धियों से बहुत कुछ सीख पाएंगे।


इस अवसर पर संस्थान के जूरी सदस्यों द्वारा उपलब्धियों के आधार पर पांच पूर्व छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया गया। सम्मानित होने वालों में गौरव अग्रवाल आईटी बैच 2013, केतन कुमार अरोड़ा आईटी बैच 2013, गौरी आर.आर. सिंह बीआर्क बैच 2018, वीरेंद्र कुमार सीएसई बैच 2020 तथा सूरथ सिंह सीएसई बैच 2021 शामिल हैं। अंत में धन्यवाद ज्ञापन सीएसई के विभागाध्यक्ष डॉ. रमाकांत बघेल ने दिया। कार्यक्रम में समन्वयक प्रो. संजीव सिंह, डॉ. नक्षत्रेश कौशिक, डीएसडब्ल्यू, चेस्टा भारद्वाज, ऋचा मिश्रा, मोहम्मद मोहसिन आदि उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन पूर्व छात्र सूरथ सिंह के साथ वर्तमान छात्रा इशिता अग्रवाल और प्राची वशिष्ठ ने किया।

विचारों और अंतर्दृष्टि का आदान-प्रदान समयानुकूल

Latest Posts

श्री बांके बिहारी के करने आ रहे हैं दर्शन तो इन बातों का रखें ध्यान

श्री बांके बिहारी के करने आ रहे हैं दर्शन तो इन बातों का रखें ध्यान. गुरु पूर्णिमा मेला के अवसर पर श्री बांके बिहारी जी मंदिर के...

बरखेड़ा नगर अध्यक्ष श्याम बिहारी भोजवाल ने मोहर्रम के त्योहार को शांतिपूर्ण ढंग से मनाने की अपील की

बरखेड़ा नगर अध्यक्ष श्याम बिहारी भोजवाल ने मोहर्रम के त्योहार को शांतिपूर्ण ढंग से मनाने की अपील की मोहर्रम के त्योहार पर समस्त सभासदों के...

Anupama 18th July 2024 Written Update: परिवार में तनाव बढ़ा, पाखी ने मनाया जन्मदिन!

Anupama 18th July 2024 Written Update अनुपमा में नवीनतम ड्रामे को देखें! 18 जुलाई के एपिसोड के लिए यह लिखित अपडेट पाखी के जन्मदिन समारोह,...

बाढ़ का पानी निकलने के बाद गांवों मे साफ सफाई का कार्य तेजी से कराए- डीएम

बाढ़ का पानी निकलने के बाद गांवों मे साफ सफाई का कार्य तेजी से कराए- डीएम हरदोई। बाढ़ के बाद की स्थिति से निपटने के...

दीप्ति सक्सेना को मिला राष्ट्रीय उत्कृष्ट शिक्षक सम्मान 2024

दीप्ति सक्सेना को मिला राष्ट्रीय उत्कृष्ट शिक्षक सम्मान 2024 बदायूँ के स्काउट भवन में जन दृष्टि (व्यवस्था सुधार मिशन) द्वारा राष्ट्रीय शिक्षक महाकुम्भ का आयोजन...

Related Articles