32.5 C
Mathura
Friday, July 12, 2024

शहीद के गांव से 3 किमी दूर कर दिया शहीद स्मारक का लोकार्पण, शहीद द्वार बना नहीं, बिना प्रतिमा किया लोकार्पण, लोगों में आक्रोश

शहीद के गांव से 3 किमी दूर कर दिया शहीद स्मारक का लोकार्पण, शहीद द्वार बना नहीं, बिना प्रतिमा किया लोकार्पण, लोगों में आक्रोश

प्रदेश सरकार व जिला अधिकारी के निर्देशानुसार प्रत्येक शहीद जवान के गांव में शहीद द्वार बनेगा, लेकिन बलदेव के गांव गढ़ीनंदू में 1965 भारत पाक युद्ध के शहीद जवान रामकुमार सिंह का पैतृक गांव में शहीद द्वार व प्रतिमा आज तक बनी नहीं, उल्टे गांव से 3 किलोमीटर दूर भरतिया गांव में मंदिर की जमीन में 500 ईंट लगा कर स्मारक का रूप देकर शहीद के पुत्र से तस्वीर मंगा कर लोकार्पण कर दिया। जिससे गांव वालों में आक्रोश व्याप्त है। उस दिन लोकार्पण करने पहुंचे विधायक पूरन प्रकाश, एसडीएम महावद्न से भी शहीद के पुत्र ने नाराजगी व्यक्त की थी । प्रदेश सरकार व डीएम से पैतृक गांव गढ़ी नंदू में प्रवेश द्वार व शहीद की प्रतिमा व स्मारक बनाने की मांग की है। शहीद रामकुमार के पुत्र जयपाल सिंह चौधरी ने बताया वह मथुरा टाउनशिप पर रहते हैं। 14 अगस्त तक प्रशासन ने नहीं बताया प्रशासन उनके शहीद पिता के नाम पर कोई कार्यक्रम कर रहा है। उनके परिजनों को 14 की देर रात में फोन पर बताया उनको 15 अगस्त को भरतिया गांव पहुंचना है,आप शहीद की तस्वीर लेकर आ जायें। जयपाल सिंह चौधरी ने कहा शहीद का सम्मान करना था प्रशासन शहीद पिता के नाम पर उनके पैतृक गांव गढ़ीनंदू में शहीद स्मारक बनवाता। गांव से तीन किलोमीटर दूर मंदिर की जमीन में चंद ईंट लगाकर ये तो शहादत का अपमान है। शहीद के पुत्र ने इसकी शिकायत मुखमंत्री, रक्षा मंत्रालय, सैनिक कल्याण बोर्ड लखनऊ, सैनिक कल्याण बोर्ड मथुरा, एवम जिला अधिकारी को पत्र लिख कर की है और इसकी जांच की मांग की है।

शहीद के गांव से 3 किमी दूर कर दिया शहीद स्मारक का लोकार्पण, शहीद द्वार बना नहीं, बिना प्रतिमा किया लोकार्पण, लोगों में आक्रोश

Latest Posts

संस्कृति विवि के विद्यार्थियों को कॉन्टिनुआ कंपनी ने दी नौकरी

संस्कृति विवि के विद्यार्थियों को कॉन्टिनुआ कंपनी ने दी नौकरी

बाढ़ पीड़ितों की मदद को आगे आए सपा नेता राजू

बाढ़ पीड़ितों की मदद को आगे आए सपा नेता राजू

कैंसर के खिलाफ लड़ाई में ऑन्कोलॉजी काफी मददगारः डॉ. सुरेंद्र सिंह

कैंसर के खिलाफ लड़ाई में ऑन्कोलॉजी काफी मददगारः डॉ. सुरेंद्र सिंह

महात्मा गांधी राजकीय विद्यालय डीग मे आयोजित हुआ भामाशाह का सम्मान समारोह

महात्मा गांधी राजकीय विद्यालय डीग मे आयोजित हुआ भामाशाह का सम्मान समारोह

मैं सेना की वजह से ज़िंदा हूँ : देबस्मिता राणा

मैं सेना की वजह से ज़िंदा हूँ : देबस्मिता राणा

Related Articles