24 C
Mathura
Tuesday, March 5, 2024

संस्कृति विवि में सत्र 2023-24 में प्रवेश के लिए रजिस्ट्रेशन शुरूविद्यार्थी रोजगारपरक कोर्सों में ले रहे हैं विशेष रुचि

मथुरा। संस्कृति विश्वविद्यालय में सत्र 2023-24 के लिए विभिन्न विषयों की कक्षाओं में प्रवेश के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू हो चुके हैं। प्रवेश चाहने वाले विद्यार्थियों के लिए विश्वविद्यालय के एडमीशन सेल ने आनलाइन और आफलाइन रजिस्ट्रेशन करने के लिए व्यापक व्यवस्थाएं की हैं। लगातार विद्यार्थियों के फोनों पर और व्यक्तिगत रूप से काउंसलिंग और विशेष परामर्श दिए जा रहे हैं।
संस्कृति एडमीशन सेल के अधिकारियों ने जानकारी देते हुए बताया कि इस समय विद्यार्थियों की रुचि इंजीनियरिंग की कोर ब्रांचेज मैकेनिकल, कंप्यूटर साइंस, आर्टिफिशियल इंटेलीजेंसी, साइबर सिक्योरिटी, इलेक्ट्रिकल और रोबोटिक्स में ज्यादा नजर आ रही है। आईनर्चर द्वारा संचालित कोर्सों में भी विद्यार्थी बढ़चढ़कर जानकारी हासिल कर रहे हैं। संस्कृति विवि में संचालित बीए फैशन, डिप्लोमा इन फैशन डिजाइनिंग स्कूल में छात्राएं विशेष रुचि ले रही हैं और रजिस्ट्रेशन करा रही हैं। नर्सिंग कालेज के प्रभारी ने बताया कि रोजगार परक कोर्स बीएससी नर्सिंग, एएनएम, जीएनएम में छात्राओं की रुचि को देख लगता है कि शीघ्र ही सभी सीटें फुल हो जाएंगी। उधर होटल मैनेजमेंट में प्रवेश लेने की इच्छा रखने वाले विद्यार्थियों की भी कमी नहीं है, उसकी वजह स्पष्ट है कि विभाग के शत-प्रतिशत बच्चों के प्लेसमेंट हो जाते हैं। हाल ही में होटल मैनेजमेंट स्कूल के विद्यार्थी दुबई और टर्की के होटलों में अच्छे वेतनमान पर नियुक्त हुए हैं।
संस्कृति एडमीशन सेल द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार वर्तमान दौर में पैरामैडिकल कोर्स करने वाले विद्यार्थियों की मांग बढ़ने के कारण आप्टोमैट्री कार्डियो वेसिकुलर टेक्नोलाजी, फिजियो थैरेपी, एक्सरे टेक्नीशियन, ओटी टेक्नीशियन बनने की रुचि रखने वाले विद्यार्थियों की भी संख्या बहुत है। वहीं बीबीए, एमबीए, बीसीए, एमसीए में प्रवेश चाहने वाले छात्र लगातार रजिस्ट्रेशन करा रहे हैं। इसके अलावा कृषि क्षेत्र में दक्षता के लिए संस्कृति एग्रीकल्चर स्कूल में प्रवेश चाहने वाले विद्यार्थियों की भी लंबी लाइन है। बताते चलें कि संस्कृति एग्रीकल्चर स्कूल को आईसीएआर द्वारा मान्यता मिल चुकी है। सरकारी सहायता से अपना रोजगार खड़ा करने के लिए एग्रीक्लिनिक में विशेष कोर्स भी शुरू हो गया है।
संस्कृति विवि की विशेष कार्याधिकारी श्रीमती मीनाक्षी शर्मा ने कहा कि संस्कृति विवि के शिक्षकों ने समय से पाठ्यक्रम पूरा कराने के संकल्प को हासिल करने में सफलता अर्जित की। विवि ने समय से परीक्षाएं करा कर परिणाम घोषित किए। इसके अलावा हमारे यहां के 90 प्रतिशत के लगभग विद्यार्थियों को नौकरी हासिल हुई है, जो विवि की शैक्षणिक सफलता का प्रतीक है। विवि नई शिक्षा नीति के अनुरूप वैश्विक स्तर को बनाए रखने के लिए निरंतर प्रयासरत रहता है।

Latest Posts

तन-मन को तरोताजा रखने के लिए खेल जरूरीः जेल अधीक्षक

तन-मन को तरोताजा रखने के लिए खेल जरूरीः जेल अधीक्षक

संस्कृति विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय पराक्रम दिवस के उपलक्ष्य में सेमिनार का हुआ आयोजन

संस्कृति विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय पराक्रम दिवस के उपलक्ष्य में सेमिनार का हुआ आयोजन

बीएएमएस की परीक्षा में तलाशी अभियान में एक पकड़ा गया नकलची

बीएएमएस की परीक्षा में तलाशी अभियान में एक पकड़ा गया नकलची

संस्कृति विवि में वैदिक विज्ञान के महत्व के साथ मना राष्ट्रीय विज्ञान दिवस

संस्कृति विवि में वैदिक विज्ञान के महत्व के साथ मना राष्ट्रीय विज्ञान दिवस

मानवता को शर्मसार करती ममता सरकार- नायक

मानवता को शर्मसार करती ममता सरकार- नायक

Related Articles